मुस्कुराने के लिए ही जिंदगी मिली है.

मुस्कुराने के लिए ही जिंदगी मिली है.

डॉक्टर सुधीर सिंह

मुस्कुराने  के लिए ही जिंदगी मिली है,

रोने में उम्र को कभी बर्बाद न कीजिए.

वक्त बहुत कम है  आपको जीवन में,

अपनी जिंदगी का खूब आनंद लीजिये.

ईश्वर ने भेजा है भरपूर ऊर्जा के साथ,

अपनी उस ऊर्जा का सदुपयोग कीजिए.

निष्क्रिय जीवन का कोई  महत्व नहीं,

स्वयं को हमेशा  यहाँ  सक्रिय रखिये.

ब्रह्मांड में जितने सजीव व निर्जीव हैं,

सबको सतत संघर्ष करना ही पड़ता है.

अस्तित्व की रक्षा हेतु संघर्ष जरूरी है,

बिना संघर्ष  के अस्तित्व ही अधूरा है

संकल्प से यहाँ सबकुछ मिल जाता है,

वही इंसान  का सचमुच स्वाभिमान है.

सत्प्रयास देता  है  संकल्प को सहारा,

संकल्प में विजय का अद्भुत रोमांच है.

कविता और कहानी