अभिव्यक्ति साहित्यिक संस्था का पंचम वार्षिक समारोह धूमधाम से सम्पन्न हुआ

अभिव्यक्ति साहित्यिक संस्था का पंचम वार्षिक समारोह धूमधाम से सम्पन्न हुआ

दिनांक १६ अगस्त 2020 को अभिव्यक्ति साहित्यिक संस्था का पंचम वार्षिक समारोह ऑनलाइन लाइव काव्य प्रसारण के माध्यम से सम्पन्न हुआ। छह दिनों का यह कार्यक्रम अभिव्यक्ति मंच के लाइव पटल आगाज़ (गीत ग़ज़ल) से प्रसारित हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता परम आदरणीय आशु कवि राजेश राज जी की उपस्तिथि में सभी कवियों एवं कवयित्रियों ने काव्य पाठ किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आदरणीय मनमोहन शर्मा शरण (प्रधान संपादक अनुराधा प्रकाशन) थे एवम आदरणीय अभय सिंह “अभय” संस्थापक (आदित्य सहित्य साधना संस्था) विशेष अतिथि थे।अभिव्यक्ति साहित्यिक संस्था गत पाँच वर्षों से हिंदी साहित्य के प्रचार एवम प्रसार में कार्यरत संस्था है। हिंदी साहित्य की विभिन्न विधायें ऑनलाइन आयोजनों के माध्यम से न केवल भारत वरन विदेशों और सुदूर राज्यों में बैठे लोगों के लिये एक शिक्षा का माध्यम बन रही है ।
 आदरणीय मधु मधुबाला लबाना जो कि अभिव्यक्ति संस्था की संस्थापिका एवम राष्ट्रीय अध्यक्षा हैं प्रतिदिन न जाने कितने ही लोगों को हिंदी साहित्य के समृद्ध इतिहास से रूबरू कर रही हैं।
कोरोना काल में ऑनलाइन आयोजनों एवम लाइव गोष्ठियों द्वारा ही प्रतिदिन सृजन एवम प्रस्तुति संभव हुई है। अभिव्यक्ति संस्था के लाइव पटल आगाज़ (गीत,ग़ज़ल) पर अभिव्यक्ति मंच का पंचम वार्षिकोत्सव छह दिन के लाइव प्रसारण द्वारा भव्य रूप में मनाया गया, जिसमें हिंदी साहित्य के सशक्त हस्ताक्षर परम आदरणीय राजेश राज जी की अध्यक्षता में सभी प्रबुद्ध रचनाकारों ने काव्य पाठ किया।
       परम आदरणीय राजेश राज जी जाने माने राष्ट्रीय कवि है और अनेकों सरकारी और गैर सरकारी पुरस्कारों से  संम्मानित हैं। सब टीवी चैनल से प्रसारित कार्यक्रम “वाह वाह क्या बात है” पर उनकी प्रस्तुति ने उन्हें देश विदेश में सशक्त पहचान दिलाई है। उनके काव्यपाठ को सुनकर सब उनके मुरीद हो गए।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मनमोहन शर्मा शरण जी (प्रधान संपादक अनुराधा प्रकाश) एवम विशेष अतिथिअभय सिंह अभय संस्थापक (आदित्य साहित्य साधना संस्था)ने अपनी प्रस्तुति में अभिव्यक्ति संस्था के प्रति उद्गार प्रकट किये एवम अपनी रचनाओं का काव्यपाठ किया।        कार्यक्रम के पहले दिन 11 अगस्त को,आदरणीय कनकलता गौड़ जी अध्यक्षा (आ.सा.सा संस्था) द्वारा कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। उनके बाद आशालता यादव जी और फिर अभय सिंह अभय जी ने अपनी शानदार प्रस्तुति से सबका मन मोह लिया।    दूसरे दिन 12 अगस्त को, रजनीश गोयल जी, उषा किरण जी और अ. मनमोहन शर्मा शरण जी का लाइव प्रसारण हुआ।             तीसरे दिन, 13 अगस्त को विजय कनौजिया जी, आ. राजेश राज जी, आ. मंजुल मंजर लखनवी जी और सुषमा शैली जी का शानदार काव्यपाठ हुआ।    चौथे दिन 14 अगस्त में, युवा कवि राजेश कुमार जी, आ.शुभदा बाजपेई जी और “दिव्य ज्योति” समूह की संस्थापिका सरोज सिंह सजल जी ने लाजवाब प्रस्तुति दी।     पांचवें दिन 15 अगस्त को पटल पर स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में, देशभक्ति की धूम मची रही। कमल धमीजा जी,नीलोफ़र नीलू जी, हरियाणा गौरव सुनील शर्मा जी और आ.राकेश शम्स जी ने अपनी खूबसूरत रचनाओं से पटल की सुंदरता में चार चाँद लगा दिए।              16 अगस्त को इस पंचम वार्षिकोत्सव के समापन समारोह के अंतर्गत सबसे पहले  आदरणीय मधु मधुबाला लबाना जी ने पटल के बारे में जानकारी दी, और सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया। ततपश्चात आ.रजनीश गोयल जी, आ.उषा किरण जी, लक्षिता गोयल जी एवं गीतकार कवि कुंदन उपाध्याय जी गायिका कामिनी मल्होत्रा ग्रोवर जी नीलोफ़र नीलू जी ,आ.वन्दना गोयल जी,आ.मीनाकुमारी शुक्ला जी,कमल धमीजा जी, बृज व्यास जी,सरोज सिंह सजल जी,पंकज शर्मा तरुण जी, आशालता यादव जी, ओज कवि हरियाणा गौरव सुनील शर्मा जी, कमलकांत शर्मा जी, राजेश कुमार जी,कनकलता गौर जी,अभय सिंह अभय जी और राकेश शम्स जी ने पटल को पाँच वर्ष पूरे करने पर बधाईयाँ प्रेषित की। अंत में इस लाइव प्रसारण के अध्यक्ष प्रसिद्ध आशुकवि राजेश राज जी ने अपनी बधाई और लेखन की जानकारी देते हुए इस कार्यक्रम को अंजाम तक पहुंचाया।

*नीलोफर नीलू*

नई दिल्ली सभी रचनायें साहित्य