भाजपा पर अग्रवाल समाज की अनदेखी का आरोप

भोपाल. अंतराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन के राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं अग्रवाल वैश्य समाज हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष अशोक बुवानीवाला ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा पर समाज की अनदेखी का आरोप लगाते हुए वैश्य समाज से भारतीय जनता पार्टी को सबक सिखाने की अपील की है।

बुवानीवाला ने छत्तीसगढ़ के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में कांग्रेस के पक्ष प्रचार के दौरान कहा कि भाजपा ने जिस तरह से देश के दो बड़े राज्यों राजस्थान व मध्यप्रदेश में वैश्य समाज की अनदेखी की है वह बर्दास्त नहीं की जा सकती। मध्यप्रदेश में एक भी टिकट वैश्य समाज का नहीं देना बड़ा अपमान है जबकि राजस्थान में केवल तीन ही सीटों पर उम्मीदवार बनाए गए हैं जो खानापुर्ति मात्र है। भाजपा का यह रवैया साफ दिखाता है कि पार्टी वैश्य नेतृत्व को समाप्त कर केवल वोटों तक ही सीमित रखना चाहती है।

बुवानीवाला ने कहा कि भाजपा को यह नहीं भूलना चाहिए कि उसका पालन-पोषण कर सत्ता तक पहुंचाने में अगर किसी समाज का सबसे अधिक योगदान है तो वो वैश्य समाज है। उन्होंने कहा कि वैश्य समाज को केवल और केवल लंच व मंच का व्यवस्थापक समझने की सोची-समझी साजिस के तहत भाजपा अपने विशेष एजेंडें के साथ काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि वैश्य समाज के दम पर सत्ता में आने के बाद केवल टिकट वितरण ही नहीं बल्कि व्यापार विरोधी नीतियों से भी वैश्य समाज की कमर तोडऩे का काम किया है। पहले नोटबंदी की मार से व्यापारियों की कमर तोड़ी गई और उसके बाद जीएसटी ने उन्हें बर्बाद किया । व्यापार विरोधी नीतियों की वजह से लघु व मझले व्यापार या तो बंद हो चुके हैं या फिर कर्ज के बोझ तले दबे हुए है।

बुवानीवाला ने कहा कि छत्तीसगढ़ तथा राजस्थान के वैश्य लोगों में इस बात को लेकर भारी रोष है। लोगों का मानना है कि भाजपा उन्हे केवल मतों तथा चंदा देने वाला वर्ग ही मानती है। इसलिए इन चुनावों में भाजपा को रसातल में भेजने का कार्य करेंगे। अशोक बुवानीवाला ने कहा कि दूसरे राज्यों में भी वे जाकर भाजपा की वैश्य विरोधी रणनीति का प्रचार करेंगे।

Releated Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *